Musk deer | कस्तूरी मृग

मृग अथवा हिरण स्तनपायी प्राणी – वर्ग का एक बेहद खूबसूरत जीव है । वैसे तो हिरणों की पूरी नस्ल ही एकदम सीधी – सादी व भोली – भाली होती … Read More

पक्षी – बाज | Information on eagle in Hindi

इस चंचल शिकारी पक्षी की शारीरिक बनावट बहुत आकर्षक होती है। सुन्दर, कोमल तथाचमकदार कत्थई पंखों से इसका शरीर ढंका होता है। अन्दर की ओर मुड़ी हुई नुकीली चोंच का … Read More

दिलचस्प मुकदमे पशु-पक्षियों पर | Lawsuit animal birds Information in hindi

दुनिया की न्याय प्रणाली के इतिहास में कई रोचक और हैरतअंगेज किस्सेभरे पड़े हैं। सभ्यता के कमिक विकास के साथ जैसे-जैसे आदमी शिक्षित होता गया,ही न्याय का नैसर्गिक स्वरूप भौतिकता … Read More

सावधान ! खतरनाक है रैबीज़ |Rabies Information in Hindi

परिचय – रैबीज के बारे में जानकारी रैबीज़ एक जानलेवा खतरनाक बीमारी है, जो जंगली मांसाहारी स्तनपायी पशुओं को होती है। भेड़ियों, सियारों, नेवलों, और भालूओं में होने वाली यह … Read More

रंगीन संसार तितलियों का | butterfly Information in Hindi

मनभावन रंग बिरंगी तितली देखते ही सबका मन प्रफुल्लित हो उठता है। यह छोटा सा जीव अपने आकर्षक,चमकदार चटख रंगों से सजा हुआ जब खूबसूरत फूलों पर मंडराता है तो … Read More

विचित्र रंग-रूप वाले प्राणी जिराफ की जानकारी | Giraffe Information in Hindi |निबंध

अफ्रीका के रेगिस्तानी क्षेत्रों में भी तेज दौड़ने वाला, ऊंट जैसा संसार का सबसे ऊंचा स्तनधारी पशु पाया जाता है। शायद समझ गए होगें, उस विचित्र पशु का नाम है-जिराफ। … Read More

सदियों से आदमी का दोस्त है कबूतर |pigeon Information in hindi

प्राचीन काल से लेकर आधुनिक काल तक कबूतरों का अनोखा और आश्चर्यजनक व्यवहार सभी का मन मोहता आ रहा है। कबूतर के बारे में हम आपको जानकारी देते हैं ! … Read More

पुलिस के साथी जासूस कुत्ते

प्राणी-जगत में कुत्ते ही एकमात्र ऐसा प्राणी है, जो आदमी से वफादारी और स्वामी-भक्ति के मामले में अपनी मिसाल खुद है। कुत्ते सदियों से मनुष्य का वफादार दोस्त रहा है। … Read More

जानें खरगोश के बारे में | 12 facts about rabbit (khargosh) in hindi

खरगोश एक नाजुक, मासूम और निहायत खूबसूरत प्राणी है। सफेद-झक और मुलायम बालों वाला यह जानवर बरबस किसी को भी अपनी ओर आकर्षित कर सकता है। शिकारी किस्म के लोग … Read More

आज भी जरूरी है बैलगाड़ी

निःसन्देह बैलगाड़ी बाबा आदम के जमाने से चली आ रही है। आज से पांच हजार बरस पहले मोहन जोदड़ो और हड़प्पा के कांस्य युग में जैसी बैलगाडियां सड़को पर चलती … Read More