करें 1

Film journey of Manoj Bajpayee | मनोज बाजपेयी का फ़िल्मी सफ़र

1500x500
Manoj Bajpayee
नाममनोज बाजपेयी
जन्म 23 अप्रैल 1969 (आयु 51 वर्ष ) नकटीया गंज बिहार
पिता राधाकांत बाजपेयी
माता ज्ञात नही
पत्नी शबाना रजा (नेहा) विवाह 2006
पुत्रीअवा
पुत्रज्ञात नहीं
पहली फिल्मबैंडिट क्वीन ( 1994 )
पहला धारावाहिकस्वाभिमान (1995)
लम्बाई5 “9”
वजन68 कि.ग्रा.
शारीरिक संरचनाछाती 39 इंच कमर 33 इंच
बालों का रंगकाला
राशिवृषभ
स्कूल 
कॉलेज 
शैक्षणिक योग्यताइतिहास में स्नातक
प्रमुख घटनायें1.आमिर खान की फिल्म दंगल में भूमिका पसंद न आने के कारण काम से इंकार | 2.फिल्म चाक एंड डस्टर की निर्माता जूही चावला ने मनोज वाजपेयी को फिल्म से निकल कर ऋषि कपूर को क्विज मास्टर का रोल दे दिया क्योकि उन्हें लगा कि मनोज इस रोल के लिए फिट नहीं है |  
पसंदीदा भौजनबिरयानी / पेने पास्ता
पसंदीदा अभिनेताअभिताभ बच्चन नसीरुद्दीन शाह
पसंदीदा अभिनेत्रियाँस्मिता पाटिल / तब्बू
पसंदीदा निर्देशकशेखर कपूर रामगोपाल वर्मा
पसंदीदा फिल्मगेंग्स ऑफ़ वासेपुर
Manoj Bajpayee
Manoj Bajpayee

लम्बा संघर्ष किया मनोज बाजपेयी (Manoj Bajpayee) ने

51 वर्षीय मनोज बाजपेयी हिंदी सिनेमा के चिर-परिचित चेहरे हैं l मनोज का फ़िल्मी सफ़र आसान नहीं रहा और उन्हें लम्बा स्ट्रगल करना पड़ा l  आपको यह जानकर ताज्जुब होगा कि मनोज के स्ट्रगल –पिरीयड के कारण उनकी पहली पत्नी उन्हें विवाह के दो माह बाद ही छोड़कर के चली गई थी l

छोटे -से गाँव के किसान परिवार से हैं मनोज (Manoj Bajpayee)

Manoj Bajpayee

     मनोज बिहार के बेतवा  गाँव में , जो नेपाल सीमा के करीब ही है,  23 अप्रैल 1969 को जन्मे l चूँकि इस परिवार में  5  भाई- बहिन थे, इसलिए सभी की ढंग से परवरिश कर पाना उनके किसान माता –पिता के बूते की बात नहीं थी l अलबत्ता , बच्चों को पूरी आजादी थी कि वह जो चाहे,  करें l इससे मनोज में अनूठा आत्मविश्वास आया l मनोज को  खुद पर इतना आत्मविश्वास है कि वह फिल्म चुनने से लेकर अपने आत्म सम्मान तक किसी भी बात में समझौता नहीं करते l

उन्हें एक प्रयोगधर्मी परिपक्व अभिनेता के रूप में जाना जाता है l अपनी प्रारभिक शिक्षा के . आर . हाई स्कूल बेतिया में करने के बाद वह दिल्ली चले गए,  जहाँ  उन्होंने रामजस कॉलेज में अध्ययन किया l उन्होंने राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में प्रवेश के लिए चार  बार असफल प्रयास किये |

थियेटर का जुनून – 400 नाटक किये

     इसके बाद अभिनय का जूनून उन्हें थियेटर में ले आया l तीन सालों में मनोज ने तक़रीबन 400 नाटक किये l उन्होंने बेरी जॉन के साथ भी रंगमंच कियाl उन्होंने अभिनय कौशल बैरी जॉन से सीखाl शाहरुख़ खान उन दिनों उनकी अभिनय कक्षा के सहपाठी थे l

निर्देशक अनुभव सिन्हा ने की मदद

निर्देशक अनुभव सिन्हा मनोज के मंडी हॉउस के साथी थे | अनुभव ने मनोज की बहुत मदद की l अनुभव मुंबई आकर पंकज पराशर के साथ कम करने लगे l  पंकज को एक सीरियल के लिए कलाकार की जरुरत थी l अनुभव ने मनोज की सिफारिश की l मनोज को रोल  मिल तो गया l मगर अफ़सोस ! वह सीरिज कभी न बन पाई l

संघर्ष के दौर में पांच दोस्तों के साथ मुंबई की एक चाल में

     मनोज अपने पांच मित्रों के साथ  मुंबई की एक चाल में रहकर फिल्मों में प्रवेश के लिए स्ट्रगल करने लगे l मनोज की बदकिस्मती का आलम यह था कि एक दिन में तीन प्रोजेक्ट उनके हाथ  से चले गए l एक बार शूटिंग के दौरान ही अपमानजनक तरीके से उन्हें बाहर निकाला दिया गया और असिस्टेंट डाइरेक्टर ने उनके फोटो भी फाड़कर फेंक दिए |

     चाल का किराया भर पाना दूभर हो रहा था और बड़ा पाव तक वह पेट भरने के लिए  नहीं खरीद पा रहे थे l मगर हिम्मत हारे बिना वह निरंतर प्रयासरत रहेl

     चार सालों के संघर्ष के बाद अन्तत: उन्हें महेश भट्ट के टीवी सीरियल `स्वाभिमान ` में रोल मिला l यह 1994 की बात है, जब उन्हें प्रति एपिसोड एक हजार पांच सौ  रुपये परिश्रमिक  मिला करता था |

EvnvE7jXUAIW85v
Manoj Bajpayee

   ‘बैंडिट क्वीन ‘ में पहली बार फिल्मों में एंट्री

    ‘बैंडिट क्वीन’  फिल्म में शेखर कपूर ने उन्हें एंट्री दी l  यह उनकी पहली फिल्म थीl  फिर उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा | ‘द्रोहकाल,’ ‘दस्तक’, ‘तमन्ना’, ‘दौड़’, ‘कलाकार’, ‘दाउद’, ‘प्रेम कथा’, ‘कौन’, ‘दिल पर मत ले यार’, ‘एलओसी’, ‘कारगिल’, ‘वीरजारा’, ‘जेल’ फिल्मों में उन्हें रोल मिलते रहे l  1998 में रामगोपाल वर्मा की ‘सत्या’ ने उन्हें पहचान दी l  मनोज कहते हैं – “इस फिल्म ने मेरी जिंदगी बदल दी l” फिल्म के भीखू म्हात्रे के रोल से वह पूरे भारत में पहचाने गए !  ‘सत्या’  के इस रोल के लिए उन्हें ‘बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर’ का नेशनल अवार्ड भी मिला l

     उन दिनों मनोज ने अनेक फ़िल्मों के ऑफर महज इसलिए ठुकरा दिये क्योंकि उन्हें रोल पसंद नहीं आया l  हालाँकि उस वक्त उन्हें पैसे की सख्त जरुरत थी !

वेबसीरिज ‘द फेमिली मेन ‘ने दी नई पहचान

     ‘शूल’, ‘पिंजर’, ‘गैग्स ऑफ़ वासेपुर’, ‘अलीगड़’ जैसी फिल्मों में उन्होंने अभिनय के उच्च स्तर को छुआl  2019 में ओटीटी प्लेटफार्म पर आई वेब सीरिज ‘द फैमली मेन’ ने उन्हें नई पहचान दी और वह अपने स्वाभाविक और उम्दा अभिनय के वास्ते देश भर में सराहे गये l

अभिनेत्री नेहा से की शादी

    2006 में उन्होंने बालीवुड अभिनेत्री नेहा से शादी की l  दोनों की एक छोटी-सी बेटी है ,  जिसका नाम अवा है l  उनकी आने वाली फिल्मों  में ‘सत्यमेव जयते-2’  और ‘डिस्पैच’   प्रमुख है !   

अनेक पुरस्कार मिले हैं मनोज को (Manoj Bajpayee)

     उन्हें फिल्मों  से सबंधित अनेक पुरस्कार मिल चुके हैं l वह राष्ट्रपति द्वारा ‘पद्मश्री’ (2019) से भी सम्मानित किये जा चुके हैं l  2019 में ही  67वें  फिल्म पुरस्कार में मनोज को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला l सन् 2017,2000 और 1999  में  क्रमश ‘अलीगड’ ,’शूल’ और ‘सत्या’  फिल्मों के लिए फिल्मफेयर का सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार मिले l 2005 में फिल्म  ‘पिंजर’ के लिए उन्हें विशेष राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला l  हाल ही में 2020 के लिए उन्हें फिल्म ‘भोंसले’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार दिया गया हैl                                                                                           

EvnvFLiXMAEzn31
Manoj Bajpayee

मनोज बाजपेयी (Manoj Bajpayee) के बारे में कुछ दिलचस्प तथ्य

  • मनोज के मातापिता को फिल्म अभिनेता मनोज कुमार बेहद पसंद थे, इसलिए उनका नाम ‘मनोज’ रखा !
  • फिल्म ‘अक्स’ में मनोज वाजपेयी  एक झरना दृश्य में  लगभग 30 फुट की ऊंचाई से अमिताभ बच्चन के साथ कूद  गए थे !
  • ‘पिंजर’ और  ‘सत्या ‘ फिल्मों के लिए मनोज  को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार दिया गया !
  • अपने स्ट्रगलिंग के दौर में मनोज से दिल्ली की लड़की ने शादी की मगर यह  विवाह दो  माह से अधिक नहीं चल पाया !
  • एन एच डी (राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय) ने मनोज वाजपेई को चार बार रिजेक्ट किया l  इसके बाद अवसाद में वह आत्महत्या करने पर उतारू हो गएl  लेकिन दोस्तों के  काफी समझाने के बाद नुक्कड़ नाटकों में व्यस्त हो गएl
  • एक दफा तब्बू और कैटरीना कैफ ने उनके पैर छू लिए थे , तब उनके यह कहने पर कि वह बुजुर्ग नहीं हैं , उन्होंने कहा था कि वह उनके अभिनय का सम्मान करती है !
  • मनोज व वाजपेयी  हिंदी सिनेमा के साथ-साथ तेलुगु और तमिल फिल्मों में भी सक्रिय हैं l
Manoj Bajpayee