डायरी-लेखन को आदत बनाइए | Information on diary writing in Hindi

व्यस्तता से भरी आधुनिक जीवन – शैली के कारण आज ‘डायरी-लेखन’ जैसीविधा हमारे दैनिक जीवन से लुप्त प्रायः हो चली है। अब बहुत कम लोगों में प्रतिदिननियमित रूप से डायरी … Read More

आदमी की बपौती है हंसी

भंगवान की बनायी दुनिया का सबसे अद्भुत जीव आदमी होता है। यहजीवों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है, क्योंकि यह हंसना जानता है। दूसरे जानवर मनही मन खुश हो लेते हो, … Read More

सफरनामा प्लास्टिक

आज हम प्लास्टिक विहीन संसार की कल्पना तक नहीं कर सकते। प्लास्टिक का नाम लेते ही आंखो के आगे एक स्वप्निल संसार तैर-सा जाता है, जिसमें आकर्षक लुभावने रंगों की … Read More

पलाश के फूल

‘पलाश‘ और ‘फागुन‘ का रिश्ता बड़ा मादक है। फागुन के अलमस्त और रंगीले महीने में पलाश के खूबसूरत और रंगीन फूलों से ढके-लदे पेड़ जैसे फागुन की मदमाती ऋतु को … Read More

पलंग: इतिहास के आईने में

पलंग व शय्या के विकास की भी दिलचस्प दास्तान है। प्राचीन सभ्यताओं में पलंग, मूल रूप में उच्च वर्ग के लोगों के लिए एक विलासोपकरण के रूप में विकसित किया … Read More

पलक – पुराण

हमारी आंखे शरीर का सबसे संवेदनशील व दुर्बल इंद्रिय है। इनका बहुत बड़ा हिस्सा हमारी खोपड़ी से सुरक्षित रहता है। इनकी खोल में चर्बी की मोटी परत वाली हड्डियों की … Read More

ओलिम्पिक के मसीहा: कुबर्तिन

विश्व के सर्वाधिक विशाल, आकर्षक और दिलचस्प खेल समारोह ओलिम्पिक का अपना एक इतिहास है गौरवमयी परम्पराओं का। बेहद दीर्घ स्वस्थ स्पर्धा की पावन भावनाओं से खेले जाने वाले इन … Read More

राज सफलता के

‘सफलता‘ सिर्फ सफलता होती है उसका कोई विकल्प नहीं होता। कामयाब आदमी के पीछे जमाना चलता है, उसके पदचिन्ह अपने आप सफलता के सोपान बन जाते है। सफलता आपको आत्म … Read More

जिंदगी की शाम है बुढ़ापा !

यदि हम वर्तमान ‘समाज‘ की समग्र तस्वीर को कम से कम शब्दों में अभिव्यक्त करना चाहें तो वह शब्द होंगे – ‘कुंठित युवा और उपेक्षित वृद्ध‘, विडम्बना यह है कि … Read More

जानें भूत-प्रेतो के बारे में

मनुष्य अब तक जिन प्राकृतिक और पारलौकिक रहस्यों की थाह नहीं पा सका है, उनमें भूत-प्रेतों का अस्तित्व भी एक है। वैज्ञानिक भूत-प्रेतों सम्बन्धी धारणाओं को खारिज करते हुए इसे … Read More